जालंधर (नरिंदर गुप्ता )
जिस सिकंदर लोधी की सामने बड़े बड़े छत्रियों ब्राह्मणों ने हथियार डाल दिये थे ।लेकिन गुरु रविदास जी उसके सामने सीना तान कर खड़े रहे और उसको अपने चरणों में ला कर खड़ा कर दिया था ।इन शब्दो का प्रगटावा अनिल कुमार बाघा
प्रधान अंबेडकर फोर्स पंजाब ने किया। उन्होने कहा की उनको गुरु मानकर सिकन्दर लोधी ने दिल्ली मे गुरु रविदास के नाम से आश्रम बनवाया था मनुवादी सरकार ने उसको तोड़ने का काम किया है। उसकी सरकार की औकात 2 अप्रैल को तो दिखा दी थी अब 13 अगस्त को ये समाज मनुवादियो की उनकी औकात दिखायेगा । हथियार हमनें उस समय भी नही डाले थे। आज भी नही डालेंगे।