Bureau Report-

K9news चैनल की टीम ने किया एक बड़ा खुलासा। फगवाड़ा के एक गांव हरदास पुर में एक भाजपा के मौजूदा रहे सरपंच नरेंद्र सिंह पुत्र तारा सिंह की और से 1-1-2017 को समय करीब 2.00 बजे दोपहर अपने लाइसेंसी अस्ले से एक जंगली सांबर को गोली मार एक जीव हतिया की गई। और वहा के एक समाज सेवी व्यक्ति हरनेक सिंह और गांव वासियों की ओर से यह मामला देखा गया जिसके बाद गांव के कुछ समाजसेवी जीव हत्या की सुरक्षा करने वाले ने ये शिकायत उसी समय पुलिस प्रशासन और वन विभाग के अधिकारियों को की यह सारा जीव हत्या का मामला गांव में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया। और उसी ही समय गांव हरदासपुर की एक बेटी जैस्मीन पुत्री हरनेक सिंह ने इस सारे जीव हत्या के मामले को देखा जिसने अपने बयानों के आधार पर बताया कि मैं अपने ही पारिवारिक बहनों के साथ गांव के बाहर वाली रोड पर एक्टिवा सीख रही थी उसी समय करीब दोपहर के 2:00 बजे कि अचानक हमने गोली चलने की आवाज सुनी और हमने अपने घर वापस आते हुए देखा कि भाजपा के सरपंच नरेंद्र सिंह पुत्र तारा सिंह के नौकर अपने ही घरेलू बैलगाड़ी के ऊपर एक सांभर जो कि मरा हुआ था उसे लेकर जा रहे थे मैंने अपनी एक्टिवा उसके पीछे लगाई और देखा कि वह मरे हुए सांभर को सरपंच के हवेली में लेकर गए हैं और इस मौके की गवाह जैस्मीन ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए बताया कि हम इस जीव हत्या के बारे में पंजाब पुलिस के उच्च अधिकारियों को लिखती शिकायत कर चुके हैं जिसमें डी एस पी साहब कपूरथला, मान्य मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह पंजाब, मान योग डायरेक्टर वन विभाग पंजाब चंडीगढ़, डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस पंजाब चंडीगढ़ को देने के बाद अब तक आढ़ाई साल बीत जाने तक उस सरपंच नरेंद्र सिंह पुत्र तारा सिंह पर कोई भी कानूनी कार्रवाई नहीं की गई इसके उल्ट वह अलग अलग मोबाइल नंबर से हरनेक सिंह और उसके परिवार को जान से मारने की धमकियां दी जा रही है और पुलिस प्रशासन मुक दर्शक बन इस पूरी फिल्म को देख रही है और जब इसके बारे में डी एस पी मनजीत सिंह से बात की गई तो उन्होंने कहा इस केस में कोई दम नहीं है और जो हरनेक सिंह अपनी जाति दुश्मनी के लिए इस मामले को नाजायज उठा रहा है हमने इस रिपोर्ट बना कर अपने सीनियर अधिकारियों को भेज दी है । उन्होंने केमरे के आगे कुछ भी कहने से साफ इंकार कर दिया। और उन्होंने हमारे पत्रकार को कहा कि इस में क्या रखा इस मामले को बंद कर दो आप अपना टाईम खराब कर रहे हो।
जैसलीन की बाइट
और जब उस मौके के गवाह नसीब सिंह जो कि उस समय नरेंद्र सिंह का नौकर था उसने बताया कि उसने अपने आंखों से यह सब कुछ होते देखा कि सांभर को गोली गांव के सरपंच नरेंद्र सिंह पुत्र तारा सिंह ने ही चलाई और उस बेजुबान जंगली सांभर को मारा और सरपंच के तीन नौकर जो कि सांभर को घरेलू बैलगाड़ी के ऊपर रखकर सरपंच की हवेली के अंदर ले गए और अब उसका एक नौकर गब्बर जो कि उस समय मौजूद था अब वो भी कहीं नजर नहीं आया कि को जिंदा भी है कि उसे भी इन्होंने उस भी मार दिया।
बाइट नसीब सिंह
इसी तरह जब वन विभाग के आला अधिकारी खुशबिंदर सिंह से हमारे पत्रकार ने इसके बारे में पूछा तो उन्होंने कहा कि हमने इसकी रिपोर्ट एक हफ़्ते के अंदर ही मंगवाई है हम जल्दी ही पत्रकारों को बता देंगे
बाइट खुशबिदर सिंह
हमारे पत्रकार ने जब साबका सरपंच से फोन पर बात की तो उन्होंने बयान देने से मना कर दिया के उस समय मै गांव ही नहीं था। जब के सी सी टी वी फुटेज में जब सांभर को बैलगाड़ी पर लादकर ले रहे थे सरपंच नरेंद्र सिंह बैलगाड़ी के पीछे मोटर साइकिल पर जा रहा था तो इससे साबित होता है कि सरपंच नरेंद्र सिंह झूठ बोल रहा है इसलिए वह कैमरे के आगे कोई भी बयान नहीं दे रहा

Harnek Singh,Jasmeen Kaur (Harnek’s Daughter)Naseeb Singh