* आरोपियों को फांसी न दी तो होगा उग्र आंदोलन : समीर सेठी
फगवाड़ा (डॉ रमन ) सृष्टिकर्ता भगवान वाल्मीकि फेडरेशन की ओर से फगवाड़ा शहरी प्रधान महिन्द्रपाल मट्टू एवं अवी सेठी यूथ प्रधान फगवाड़ा की संयुक्त अगवाई में आज स्थानीय मोहल्ला वाल्मीकि पलाही गेट से शुगर मिल चौक तक रोष मार्च निकाल कर यूपी के हाथरस में दुष्कर्म, अमानवीय अत्याचार का शिकार होकर प्राण त्यागने वाली मनीषा नामक लडक़ी के लिये न्याय की मांग की गई। इस रोष मार्च में फैडरेशन के मुख्य प्रमुख पम्म लहौरिया, प्रमुख जतिन सेठी व उप प्रमुख समीर सेठी विशेष तौर पर शामिल हुए। समीर सेठी ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि आज सांकेतिक रोष प्रदर्शन किया गया है लेकिन यदि उत्तर प्रदेश सरकार ने पीडि़त परिवार को न्याय न दिया तो पूरे प्रदेश में उग्र आंदोलन शुरु किया जाएगा। उन्होंने कहा कि यूपी सरकार ने इस मामले में जिस घोर लापरवाही से काम लिया है वह सर्वथा निंदनीय है। उन्होंने कहा कि यह मामला अति दुर्लभ अपराध की श्रेणी में आता है इसलिए आरोपियों को फांसी से कम की सजा बिल्कुल भी स्वीकार नहीं होगी। यह यूपी सरकार का दायित्व है कि अब अपनी भूलों को सुधारते हुए फास्ट ट्रैक कोर्ट में मामले की गंभीरता के साथ पैरवी करे और पीडि़त परिवार को न्याय दिलाये। इस अवसर पर सुरिन्द्र सल्होत्रा महासचिव पंजाब, संजीव मिंटा जिला चेयरमैन, लक्की सरवटा वाईस जिला चेयरमैन, शिव सौंधी चेयरमैन फगवाड़ा, निखिल सेठी उप यूथ प्रधान, मोहित शर्मा, साबी बसरा, अनमोल मट्टू, पारस सरवटा, अनमोल मेहमी, करन सेठी के अलावा फैडेरशन के कार्यकर्ता भारी संख्या में उपस्थित थे।