* नई दाना मंडी में लड्डू खिला कर किसानों से बांटी खुशी
फगवाड़ा (डॉ रमन ) कैप्टन सरकार द्वारा मंगलवार को पंजाब विधानसभा में विशेष सत्र के दौरान मोदी सरकार के तीन नए कृषि कानूनों को निष्प्रभावी करने के लिए कानून बनाने को मार्किट कमेटी फगवाड़ा के चेयरमैन नरेश भारद्वाज ने कैप्टन सरकार का किसानों के पक्ष में उठाया गया क्रांतिकारी कदम बताया है। स्थानीय नई दाना मंडी में किसानों, आढ़तियों तथा मंडी मजदूरों को लड्डू खिला कर नरेश भारद्वाज तथा अन्य कांग्रेस नेताओं ने उनके पक्ष में बिल पास होने की बधाई दी। उन्होंने कहा कि जिस तरह 2004 में मुख्यमंत्री रहते कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने पंजाब के पानी को बचाने के लिये बिल पारित करवाया था उसी तर्ज पर अब किसानों के हित बचाने के लिये यह कदम उठाया है जो बहुत ही साहसिक कदम है। पंजाब भारत का पहला राज्य बन गया है जिसने केन्द्र के कृषि बिल के विरोध में तो प्रस्ताव पारित किया ही लेकिन साथ ही किसानों के हित में नए कानून भी बनाये ताकि केन्द्र द्वारा बनाये कृषि कानून पंजाब के किसानों को किसी तरह की हानि न पहुंचा सकें। उन्होंने कैप्टन सरकार की प्रशंसा करते हुए कहा कि अब न तो छोटे किसानों की जमीन की निजी कंपनियों या कार्पोरेट द्वारा कुर्की की जा सकेगी और न ही न्यूनतम समर्थन मुल्य से कम पर फसल खरीद होगी। यदि कोई ऐसा करेगा तो उसे तीन वर्ष की जेल तथा जुर्माना भुगतना होगा। इस अवसर पर वरिष्ठ कांग्रेस नेता विनोद वरमानी, पूर्व पार्षद मनीष प्रभाकर, अमरजीत सिंह, गुरदीप दीपा, रवि संधू, जतिन्द्र वरमानी, रामपाल उप्पल, सुदर्शन बहल व पदमदेव सुधीर के अलावा आढ़ती राम सिंह जोशी, विनीत सूद, जसवंत राय मेहता, इन्द्रजीत, प्रवेश अग्रवाल, किसान भगवंत सिंह, लछमणजीत सिंह, सुरिन्द्र सिंह, गुरदयाल सिंह, जसविन्द्र सिंह आदि उपस्थित थे।