अबोहर,(पंजाब ब्यूरो): पंजाब सरकार द्वारा पंजाब को नशामुक्त करने के लिए कई उपराले किए जा रहे हैं। पंजाब के मुख्यमंत्री कै. अमरेन्द्र सिंह द्वारा पंजाब पुलिस के डीजीपी दिनकार गुप्ता के साथ मीटिंग कर नशा तस्करों तथा नशो बेचने वाले मेडिकलों के खिलाफ कार्रवाई करवाने के निर्देश जारी किए साथ ही उन्होंने ड्रग कंट्रोलर को आदेश जारी कि पंजाब में बिना लाईसेंस चल रहे मेडिकलों की जांच की जाए तथा जो मेडिकल वाले नशा बेचने का काम करता है उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए। एसएसपी फाजिल्का भूपिन्द्र सिंह के निर्देशों पर पुलिस पार्टी द्वारा ड्रग इंस्पैक्टर गुरदीप सिंह बांसल बठिंडा के सहयोग से नगर थाना के पुलिस पार्टी सब इंस्पैक्टर रजनदीप कौर एएसआई बहादर सिंह अन्य पुलिस पार्टी को साथ लेकर अबोहर के कुछ मेडिकलों पर छापा मार कर उनकी चैकिंग की। चैकिंग दौरान बस स्टैंड के बैक साईड में एसके मेडिकल स्टोर पर छापा मार तो वहां कोई माल नहीं मिला। इसी के साथ ड्रग इंस्पैक्टर ने पूरी दुकान की चेकिंग की उन्होंने बताया कि मामले की जांच जारी है। पुलिस के सहयोग से मेडिकलों पर छापा मारा जाए। कोई भी बिना लाईसेंसी मेडिकल चालक मिला तो उसके खिलाफ बनती कानूनी कार्रवाई की जाएगी। जो दवाइयां पंजाब सरकार द्वारा बैन की जा चुकी है अगर उस दवाइयों को कोई भी मेडिकल संचालक बिना पर्ची के बेचता है तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। एसपी अबोहर गुरमीत सिह, डीएसपी अबोहर कुलदीप सिंह भुलर, डीएसपी संदीप सिंह, थाना बहाववाला के प्रभारी मोहन दास ने कहा है कि नशा तस्करों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने लोगों से सहयोग मांगा है और गांवों के सरपंचों से भी सहायेाग मांगा है कि अगर आपके क्षेत्र में कोई भी व्यक्ति नशा बेचता है तो उसकी सूचना तुंरत पुलिस को दे। सूचना देने वाले का नाम गुप्ता रखा जाएगा।