-सिंचाई विभाग के अधिकारियों एवं विभागीय ठेकेदारों की भ्रष्टाचार को घटना का जिम्मेदार ठहराया-

-किसान नेता अजय सोनी ने मौके पर जाकर देखा किसानों की फसलों का नुकसान-

(अनित कुमार दुबे )

समर्थ किसान पार्टी ने कौशांबी के रामगंगा और करारी माइनर नहर की कटान से फसलों के हुए नुकसान पर किसानों को मुवावजा प्रदान करने की मांग की है।
पार्टी नेता अजय सोनी ने सिंचाई विभाग की लापरवाही से फसलों के हुए नुकसान पर आक्रोश जताते हुए कहा कि किसानों की मेहनत और खून पसीने की कमाई से लहलहाती फसलों में नहर के कटान का पानी आफत बन गया है जिससे किसान पूरी तरह से टूट जाएगा। उन्होंने कहा कि एक तरफ आवारा पशुओं से फसलों का नुकसान हो ही रहा है, दूसरी तरफ सिंचाई विभाग की कारगुज़ारी ने कोढ़ में खाज का काम किया है।
अजय सोनी ने इस घटना का जिम्मेदार विभाग के भ्रस्ट अफसरों को ठहराया है जो ठेकेदारों से मोटा कमीशन लेकर नहरों की आंख मूंद कर खुदाई और सफाई कराते हैं और दफ्तर में बैठ कर लीलापोती करके शासन को फर्जी रिपोर्ट भेजते हैं।
उन्होंने जिला कलेक्टर से टीम गठित कर खुदाई कार्य की समुचित जांच कराएं जाने एवं दोषी ठेकेदारों एवं विभागीय अधिकारियों पर कार्रवाई करने की मांग की है।
किसान नेता ने पीड़ित किसानों को विश्वास दिलाया है कि इस मामले में एक होकर सभी के साथ मिलकर संघर्ष किया जाएगा और भ्रष्ट सिंचाई विभाग की कारगुज़ारी उजागर की जाएगी, साथ ही फसलों के नुकसान का समुचित मुवावाजा के लिए आंदोलन किया जाएगा।
इस मौके पर अजय सोनी के साथ देवनाथ, रामसिंह, शिवमूरत, अशोक कुमार, शिवम कुमार आदि मौजूद रहे।