नरेश कद, कपूरथलाः

मंगलवार को माडर्न जेल कपूरथला के छह स्टाफ मेंबर व छह कैदियों समेत 26 कोरोना संक्रमित मरीज सामने आए हैं। जेल में कोरोना की एंट्री के बाद जिला, जेल प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग एकदम से हरकत में आ गया हैं। हालांकि प्रशासन की ओर से दावा किया जा रहा है कि जेल के अंदर पहले से आइसोलेशन व क्वारंटीन सेंटर स्थापित है। इन मरीजों को अलग-अलग आइसोलेशन सेंटर में आइसोलेट किया जा रहा है। जेल में बंद 2300 कैदियों के अलावा जेल स्टाफ की टेेस्टिंग तेज कर दी गई है। पूरी जेल को सेनिटाइज करने की प्रक्रिया अमल में लाई जा रही है।
सिविल सर्जन डा. जसमीत बावा के अनुसार मंगलवार को जिले में 26 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इनमें सात मरीज फगवाड़ा से संबंधित है। 39 व 24 वर्षीय दो युवक अर्बन एस्टेट निवासी हैं। सबसे अहम बात यह है कि करीब पांच दिन पहले एक कैदी पॉजिटिव आया था, जिसकी अमृतसर में मौत हो गई थी। उसके बाद जिस बैरक में वह बंद था, वहां के स्टाफ व साथी कैदियों समेत लगभग 260 के सैंपल लिए गए थे। इनमें 6 कैदियों के अलावा 3 सीआरपीएफ, 2 पंजाब होमगार्ड और 1 आरबीआई कर्मचारी की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इनके अलावा एक 27 वर्षीय युवक मोहल्ला मलकाना, 58 वर्षीय व्यक्ति गांव पंडोरी, 44 वर्षीय वयक्ति गांव बूलपुर के रहने वाले हैँ। इसके अलावा दो कपूरथला निवासी मरीजों के टेस्ट जालंधर से पॉजिटिव आने के बाद वहां से रिपोर्ट किएं गए है।
सिविल सर्जन बताया कि मंगलवार को 424 टेस्ट की रिपोर्ट नेगेटिव भी आई है। उधर, माडर्न जेल में कोरोना की दस्तक से हड़कंप मच गा है और हवालातियों-कैदियों में संक्रमण का भय दिखने लगा है। हालांकि जिला प्रशासन कोरोना को यहीं पर रोकने के लिए सक्रिय हो गया है। डीसी दीप्ति उप्पल ने बताया कि जेल में पहले से बचाव अभियान जारी है। स्टाफ-कैदियों के टेस्ट लिए जा रहे हैं। जेल में बंद 2300 कैदियों के अलावा स्टाफ की टेस्टिंग शुरू कर दी गई है। वहां पर पहले से एक आइसोलेशन व क्वारंटीन सेंटर स्थापित है। अब पूरी को सैनिटाइज भी करवाया जा रहा है। जिला कानूनी सेवाओं अथारिटी के सचिव-कम-सीजेएम अजीतपाल सिंह ने बताया कि जिला व सेशन जज किशोर कुमार ने जेल में कोरोना महामारी के बचाव के लिए पहले ही सरकार की गाइड लाइन के आधार पर प्रबंध करने के आदेश दिए हुए है। अब सेशन जज ने विशेष हिदायत जारी करते हुए बचाव प्रबंध तेज करने के अलग से आदेश दिए हैं।